श्रीरामचरितमानस सुंदरकाण्ड, मूल, श्रीहनुमानचालीसा सहित (Shriramcharitmanas Sundarkand, Original Text, With ShrI Hanuman Chalisa)

श्रीरामचरितमानस सुंदरकाण्ड, मूल, श्रीहनुमानचालीसा सहित (Shriramcharitmanas Sundarkand, Original Text, With ShrI Hanuman Chalisa)
₹15.00
Book Code: 1919
इस पुस्तक में श्रीरामचरितमानस के सुंदरकाण्ड के मूल पाठ के साथ श्रीहनुमान चालीसा का भी पाठ दिया गया है जिससे यह हनुमत भक्तों के लिये अत्यंत उपयोगी है।
Description

Details

श्री गोस्वामी तुलसीदास जी महाराज के द्वारा प्रणीत श्रीरामचरितमानस हिन्दी साहित्य की सर्वोत्कृष्ट रचना है। आदर्श राजधर्म, आदर्श गृहस्थ-जीवन, आदर्श पारिवारिक जीवन आदि मानव-धर्म के सर्वोत्कृष्ट आदर्शों का यह अनुपम आगार है। सर्वोच्य भक्ति, ज्ञान, त्याग, वैराग्य तथा भगवान की आदर्श मानव-लीला तथा गुण, प्रभाव को व्यक्त करनेवाला ऐसा ग्रंथरत्न संसार की किसी भाषा में मिलना असम्भव है। आशिर्वादात्माक ग्रन्थ होने के कारण सभी लोग मंत्रवत् आदर करते हैं। इसका श्रद्धापूर्वक पाठ करने से एवं इसके उपदेशों के अनुरूप आचरण करने से मानवमात्र के कल्याण के साथ भगवत्प्रेम की सहज ही प्राप्ति सम्भव है। श्रीरामचरितमानस के सभी संस्करणों में पाठ-विधि के साथ नवान्ह और मासपरायण के विश्रामस्थान, गोस्वामी जी की संक्षिप्त जीवनी, श्रीरामशलाका प्रश्नावली तथा अंत में रामायण जी की आरती दी गयी है।
Additional Information

Additional Information

Book Code 1919
Pages 64
Language हिन्दी, Hindi
Author गोस्वामी तुलसीदास, Goswami Tulsidas
Size (cms.) 13.3 x 20.3