गीता-माधुर्य (Gita-Madhurya)

गीता-माधुर्य (Gita-Madhurya)
₹15.00
Book Code: 0388
श्रीमदभगवदगीता मनुष्यमात्र को कर्तव्य और मुक्ति की शिक्षा प्रदान करनेवाला एक सार्वभौमिक ग्रन्थ है। इस पुस्तक में स्वामी श्री रामसुखदास जी महाराज द्वारा प्रश्नोत्तर शैली में गीता के गूढ़ भावों को बड़े ही सरल तथा रोचक ढ़ंग से प्रस्तुत किया गया है।
Description

Details

श्रीमदभगवदगीता मनुष्यमात्र को कर्तव्य और मुक्ति की शिक्षा प्रदान करनेवाला एक सार्वभौमिक ग्रन्थ है। इस पुस्तक में स्वामी श्री रामसुखदास जी महाराज द्वारा प्रश्नोत्तर शैली में गीता के गूढ़ भावों को बड़े ही सरल तथा रोचक ढ़ंग से प्रस्तुत किया गया है।

Shri madbhagavadgita is an universal treatise that teaches the human being at large the Yog of action and liberation from the bondage. Swami Ramsukhdas has presented in a very interesting way the deepest secrets of Gita in a dialogue form in this book.

Additional Information

Additional Information

Book Code 0388
Pages 160
Language हिन्दी, Hindi
Author स्वामी रामसुखदास, Swami Ramsukhdas
Size (cms.) 13.3 x 20.3