नारी-शिक्षा (Nari-Shiksha)

नारी-शिक्षा (Nari-Shiksha)
₹15.00
Book Code: 0336
नारी-जाति के सर्वांगीण विकास के लिये स्त्रियों के कर्तव्य, भारतीय नारी का स्वरूप, बच्चों का जीवन-निर्माण, पातिव्रत्य धर्म, हिन्दू- शास्त्रों में नारी का स्थान इत्यादि अनेक महत्त्वपूर्ण विषयों पर श्री भाईजी-कृत एक उपदेशपूर्ण विवेचन।
Description

Details

नारी-जाति के सर्वांगीण विकास के लिये स्त्रियों के कर्तव्य, भारतीय नारी का स्वरूप, बच्चों का जीवन-निर्माण, पातिव्रत्य धर्म, हिन्दू- शास्त्रों में नारी का स्थान इत्यादि अनेक महत्त्वपूर्ण विषयों पर श्री भाईजी-कृत एक उपदेशपूर्ण विवेचन।

The book contains an explicit and instructive description by Sri Hanuman Prasad Poddar for an exhaustive upliftment of women, their duties, nature and identity of Indian women, upliftment of children, conjugal chastity, the place of women in Hindu scriptures etc.

Additional Information

Additional Information

Book Code 0336
Pages 144
Language हिन्दी, Hindi
Author हनुमान प्रसाद पोद्दार, Hanuman Prasad Poddar
Size (cms.) 13.3 x 20.3